Tamasha (Exhibition)

कुछ बात ऐसी थी  कि चुप रहना पड़ा हमको तमाशा-ए-ग़म के, ऐ दोस्त हम शौक़ीन नहीं है। Kuch Baat Aisi Thi Ki Chup Rahna Pada Humko Tamasha-e-Gham Ke, Aye Dost Hum Shoukeen Nahi Hai. Something that came up Forced my silenceThe exhibition of our despondency, my friendIs not something that I am fond of.

Read more

Magan (Bliss)

क्यूँ ऐसे तू ठुमक रही? जैसे हो कोई बावरीक्या मिल गया तुझे, तेरा कृष्ण, मीरा?क्यूँ ऐसे मगन हो नाच रही? Kyun Aise Tu Thumak Rahi?Jaise Ho Koi BawariKya Mil Gaya Tujhe, Tera Krishn, Meera?Kyun Aise Magan Ho Naach Rahi? You’re flowing like a tranquil breeze, andDrifting ubiquitously with an easeDid you find Lord Krishna, Meera?Disclose…

Read more

Deedar (Glimpse)

दीदार तेरा हुआ आज,तो सारे गिले मिट गएजहां की सारी पाबंदियाँ आज,ख़ुद-ब-ख़ुद ही हट गएमुस्कान मेरी चेहेरे पर,आज बेवजह ही खिल पड़ीमैंने पूछा उससे, क्या हुआ,तू क्यूँ यूँही हँस रही?शर्माते हुए फिर होंठ मेरे,तेरा नाम कह गयीं। Deedar Tera Hua Aaj,To Saare Gile Mit GayeJahan Ki Saari Pabandiyan AajKhud-B-Khud Hi Hat GayeMuskaan Meri Chehre ParAaj…

Read more

Samjhe Nahi (Misread)

दुःख इस बात का हैकि तुम समझे नहीं मुझेक्या करूँ अपनी सच्चाई का अब?जब तुम्हें विश्वास नहीं मुझपे। Dukh Iss Baat Ka HaiKi Tum Samjhe Nahi MujheKya Karun Apni Sachchai Ka Ab?Jab Tumhe Vishwaash Nahi Mujhpe. You trusted others, but meIt has crushed me definitelyMy virtue has no value in your eyesAs you misread me…

Read more

Charitraheen (Characterless)

आज फिर से उठा प्रश्न चरित्र पर मेरे,  आज फिर से उठी उँगली चेहरे की तरफ़ मेरे, ख़ुश रहने की कला मेरी चरित्रहीन हो गयी। Aaj phir se utha prashn charitra par mere,Aaj phir se uthi ungali chehre ki taraf mere,Khush rahne ki kala meri charitraheen ho gayi! They questioned my spirit again and again,Fingers…

Read more

Us Din (That Day)

हुई थी बेचैनी, उस दिन तुमसे मिलने के बाद दिल को ख़ुशी थी मिली, उस दिन तुमसे मिलने के बाद क्या नाम दूँ इसे अब तू ही बता, ऐ दिलकुछ ख़ास तो हुआ था, उस दिन तुमसे मिलने के बाद।  Hui Thi Bechaini, Us DinTumse Milne Ke Baad Dil Ko Khushi Thi Mili, Us DinTumse Milne Ke…

Read more

Phir Se (Again)

चलो कुछ आज लिखते हैं फिर से  तेरी याद में चंद लाइनें पिरोते हैं फिर से जज़्बातों के मोती से सजाएँगे उनको सम्भाल के अपने दिल में, उन्हें रखेंगे फिर से। Chalo Kuch Aaj Likhte Hain Phir SeTeri Yaad Mein Chand Layinen Piroten Hain Phir SeJazbaaton Ke Moti Se Sajayenge UnkoSambhal Ke Apne Dil Mein, Unhe…

Read more

Aabhas (Presence)

The sweet pain has thrived in my heart As if you are around me, my sugar pie Your divine fragrance is in the air, my love I can feel your presence nearby. एक दर्द सा उठा है सीने में  क्या तू यहीं मेरे आस पास है? ख़ुशबू तेरी हवाओं में है शायद  मुझे हर पल…

Read more

Khuli Kitaab (An Open Book)

तू इक ऐसी ग़ज़ब खुली किताब है जिसे बार बार पढ़ने का दिल करे ग़र इसका आख़िरी पन्ना भी आ जाए तो इसे बंद करने का जी ना करे। Tu Ek Aisi Gazab Khuli Kitaab HaiJise Baar Baar Padhne Ka Dil KareGar Iska Akhiri Panna Bhi Aa JayeTo Isse Band Karne Ka JI Na Kare….

Read more

Aadat Kharaab (A bad addiction)

मेरी आदत मत डालो मैं आदत ख़राब हूँ।जिसे आप ख़रीद नहीं सकतेमैं वही महँगी शराब हूँ। Meri Aadat Mat DaaloMain Aadat Kharaab Hun.Jise Aap Khareed Nahi SakteMain Wahi Mahngi Sharaab Hun. I am a bad addiction,Don’t get tempted again.The Cognac you can’t afford,I am that expensive Champagne.

Read more