Naam (Name)

जी मैंने कहा, मेरा नाम सुनकर आप जो अपनी, मुस्कुराहट हैं रोकते अंदाज़ ये आपका, और भी उम्दा है। Ji Maine Kaha, Mera Naam Sun kar Aap jo Apni, Muskurahat Hain Rokte Andaaz Ye Aapka, Aur Bhi Umda Hai. I said, the way you conceal your smile On hearing my nameThis style of yours is very elegant.

Read more

Bhawook (Sentimental)

मैं हूँ थोड़ा भावुक, पर कमज़ोर नहीं हूँबस दिल टूटा है मेरा, मैं टूटा नहीं हूँ । Main Hun Thoda Bhawook, Par Kamzor Nahi HunBus Dil Toota Hai Mera, Main Toota Nahi Hun. I am a little sentimental, but not weakMy heart was broken, not me.

Read more

Bhinn (Different)

भिन्न भिन्न आकार हैं सबके, भिन्न भिन्न आकृति है भिन्न भिन्न इंसान यहाँ पर, भिन्न इनकी प्रकृति है।भिन्न भिन्न समस्या सबकी, भिन्न भिन्न निवारण है भिन्न भिन्न बीमारी सबकी, भिन्न भिन्न उपचरण हैं।भिन्न भिन्न है सपने सबके, भिन्न भिन्न संयोग हैं भिन्न भिन्न हैं कार्य सभी के, भिन्न सबके तरीक़े हैं।भिन्न है भाषा भिन्न है बोली, भिन्न ही…

Read more

Khamoshi (Silence)

दो पल ख़ामोशी के, अनमोल बहुत हैंख़ुद की नज़र में, ये ख़ुद की क़ीमत हैं निकालते।  Do Pal Khamoshi Ke, Anmol Bahut HainKhud Ki Nazar Mein, Ye Khud Ki Qeemat Hain Nikalate. A few moments of silence are invaluableThey help you to evaluate yourself very well.

Read more

Prithak (Shattered)

चुप हूँ मैं अभी तो, यूँ ही चुपचाप रहने दोबात ग़र किए तो, पृथक हृदय मिलेंगे। Chup Hun Main Abhi To, Yun Hi Chup-chaap Rehne Do Baat Gar Kiye To,  Prithak Hriday Milenge Let my silence remain as it doesFor if I speak, it will shatter many hearts.

Read more

Chawanni (Quarter)

इक आने दो आने जैसा प्रेम हो गया है बंधु,जिसे ही देखो वही चवन्नी लिए घूमता है बंधु। Ek Aane Do Aane Jaise Prem Ho Gaya Hai Bandhu Jise Hi Dekho Wahi Chawanni Liye Ghumta Hai Bandhu The value of love is now worth a penny, brother.Everyone is carrying a quarter in their pocket, brother.

Read more

Kohraam (Chaos)

बिखरी पड़ीं थीं लाशें, कोहराम सा मचा थासिर्फ़ एक धमाके ने, यह काम कर दिया था कैसी थी यह तबाही, कि लाल हर जगह थाकोई ख़त्म था बिलकुल, तो कोई गुज़र रहा था किसकी थी यह साज़िश, यह किसका करा-धरा था मौत का यह मंज़र, दिल को दहला रहा था सोचे बिना किसी ने, यह चाल चाल दिया था शायद…

Read more

Dunia (World)

दिखावे की इस दुनिया में, क्या कुछ नहीं देखा है?कई दम घुटते रिश्तों को, मुस्कुराते देखा हैघरानों की कहीं, मिट जाए ना हस्तीइस वास्ते ख़ुद को, मिटाते हुए देखा हैऊँचा है उनका रूतबा, ज़माने में सबसे आगेइस तरह ग़लतफ़हमी में, उन्हें जीते हुए देखा हैकरते हैं उनसे सब, बे-वजह सी मोहब्बतइस झूठ को भी सच,…

Read more